प्रदेश में कोविड-19 के नियंत्रण के सम्बन्ध में राज्य सरकार द्वारा प्रभावी कार्यवाही की जा रही : मुख्यमंत्री योगी

प्रदेश में कोविड-19 के नियंत्रण के सम्बन्ध में राज्य सरकार द्वारा प्रभावी कार्यवाही की जा रही: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

कोरोना के नए स्ट्रेन को ध्यान में रखते हुए अतिरिक्त सतर्कता बरतने के निर्देश

प्रदेश सरकार लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए प्रतिबद्ध

कोविड-19 के उपचार एवं बचाव की प्रभावी व्यवस्था को बनाए रखा जाए

कोविड-19 की मेडिकल टेस्टिंग का कार्य पूरी क्षमता से संचालित किया जाए

नए स्ट्रेन की टेस्टिंग के सम्बन्ध में प्रदेश की प्रयोगशालाओं को आवश्यक उपकरणों आदि से लैस करने के लिए प्राथमिकता पर आवश्यक प्रबन्ध किए जाएं

काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग तथा सर्विलांस कार्य को पूरी सक्रियता से संचालित करें

जनपद स्तर पर इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेंटर को सक्रिय रखा जाए

कोविड-19 से बचाव के सम्बन्ध में लोगों को निरन्तर जागरूक किया जाए

आगामी 10 जनवरी, 2021 से मुख्यमंत्री आरोग्य मेलों का आयोजन पुनः प्रारम्भ किया जा रहा

मुख्यमंत्री आरोग्य मेले के दौरान लोगों को कोविड-19 से बचाव के सम्बन्ध में जागरूक किया जाए

मुख्यमंत्री आरोग्य मेले के दौरान आयुष्मान भारत योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार करते हुए योजना के पात्र लोगों के आयुष्मान कार्ड बनाने की व्यवस्था की जाए

लखनऊ: 30 दिसम्बर, 2020 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा है कि प्रदेश में कोविड-19 के नियंत्रण के सम्बन्ध में राज्य सरकार द्वारा प्रभावी कार्यवाही की जा रही है। उन्होंने कोरोना के नए स्ट्रेन को ध्यान में रखते हुए अतिरिक्त सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री जी आज यहां लोक भवन में आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में अनलाॅक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए प्रतिबद्ध है। इसके दृष्टिगत कोविड-19 के उपचार एवं बचाव की प्रभावी व्यवस्था को बनाए रखा जाए। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए यह सुनिश्चित किया जाए कि कोविड-19 की मेडिकल टेस्टिंग का कार्य पूरी क्षमता से संचालित किया जाए। इसके लिए प्रतिदिन पर्याप्त संख्या में आर0टी0पी0सी0आर0 तथा रैपिड एण्टीजन टेस्ट किये जाए।

नए स्ट्रेन की टेस्टिंग के सम्बन्ध में प्रदेश की प्रयोगशालाओं को आवश्यक उपकरणों आदि से लैस करने के लिए प्राथमिकता पर आवश्यक प्रबन्ध किए जाएं। उन्होंने काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग तथा सर्विलांस कार्य को पूरी सक्रियता से संचालित करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि जनपद स्तर पर इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेंटर को सक्रिय रखा जाए। समस्त जिलाधिकारियों तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारियों द्वारा प्रतिदिन सुबह कोविड चिकित्सालय में तथा सांयकाल इन्टीगे्रटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर में बैठक आयोजित कर कार्यवाही की समीक्षा तथा आगामी रणनीति को निर्धारित किया जाए।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कोविड-19 से बचाव के सम्बन्ध में लोगों को निरन्तर जागरूक किया जाए। विभिन्न प्रचार माध्यमों सहित पब्लिक एड्रेस सिस्टम द्वारा जन-जागरूकता के प्रयास निरन्तर जारी रखे जाएं। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि आगामी 10 जनवरी, 2021 से मुख्यमंत्री आरोग्य मेलों का आयोजन पुनः प्रारम्भ किया जा रहा है। आरोग्य मेला प्रदेश के सभी ग्रामीण तथा शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर आयोजित किया जाएगा। मुख्यमंत्री आरोग्य मेले के दौरान लोगों को कोविड-19 से बचाव के सम्बन्ध में जागरूक किया जाए।

उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए। योजना के पात्र लोगों के आयुष्मान कार्ड बनाने की व्यवस्था भी मेले में की जाए। उन्होंने मुख्यमंत्री आरोग्य मेले के आयोजन की सभी तैयारियां समय से सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

बैठक में स्वास्थ्य मंत्री श्री जय प्रताप सिंह, स्वास्थ्य राज्य मंत्री श्री अतुल गर्ग, मुख्य सचिव श्री आर0के0 तिवारी, कृषि उत्पादन आयुक्त श्री आलोक सिन्हा, अपर मुख्य सचिव गृह श्री अवनीश कुमार अवस्थी, पुलिस महानिदेशक श्री हितेश सी0 अवस्थी, अपर मुख्य सचिव राजस्व श्रीमती रेणुका कुमार, अपर मुख्य सचिव वित्त श्री संजीव मित्तल, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री श्री एस0पी0 गोयल, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डाॅ0 रजनीश दुबे, अपर मुख्य सचिव पंचायतीराज एवं ग्राम्य विकास श्री मनोज कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव कृषि श्री देवेश चतुर्वेदी, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना श्री संजय प्रसाद, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य श्री आलोक कुमार, प्रमुख सचिव पशुपालन श्री भुवनेश कुमार, सूचना निदेशक श्री शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Comment