उरई: बच्चों को नियमित आंगनबाड़ी केंद्र पर भेजें, खानपान का रखें खास ख्याल आंगनबाड़ी केंद्र पर सूखा राशन का हुआ वितरण : उप जिलाधिकारी सदर सतेंद्र कुमार

जालौन 16 फरवरी 2021 उप जिलाधिकारी सदर सतेंद्र कुमार ने शहर के मोहल्ला शिवपुरी स्थित वार्ड नंबर 25 में आंगनबाड़ी केंद्र के सोमवार को लाभार्थियों में को सूखा राशन का वितरण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से सरकार कई योजनाएं चला रही है। विशेष रुप से महिलाओं, किशोरियों और बच्चों के पोषण पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। ऐसे में सभी लाभार्थियों को अपने बच्चों को नियमित रूप से केंद्र पर भेजना चाहिए और अपने खानपान पर विशेष ध्यान देना चाहिए।

उरई: बच्चों को नियमित आंगनबाड़ी केंद्र पर भेजें, खानपान का रखें खास ख्याल आंगनबाड़ी केंद्र पर सूखा राशन का हुआ वितरण : उप जिलाधिकारी सदर सतेंद्र कुमार

बाल विकास परियोजना अधिकारी (सीडीपीओ) विमलेश आर्या ने बताया कि मोहल्ला शिवपुरी स्थित वार्ड नंबर 25 के आंगनबाड़ी केंद्र से सूखा राशन वितरण का शुभारंभ किया गया, जिसमें छह माह से तीन वर्ष, तीन वर्ष से छह वर्ष, गर्भवती धात्री और किशोरियों को सूखा राशन सुपरवाइजरों के सहयोग से वितरित वितरण किया गया। सूखे राशन में गेहूं, चावल, दाल, दुग्ध पाउडर, देशी घी आदि शामिल है । वही गर्भवती को गेहूं, चावल, काला चना, 450 ग्राम देशी घी दिया गया । जबकि अति कुपोषित बच्चों को नौ सौ ग्राम का घी का पैकेट दिया गया।

बाल विकास परियोजना अधिकारी ने बताया कि शहर में 325 अति कुपोषित बच्चे है । कार्यक्रम के दौरान पोषण थाली का भी प्रदर्शन हुआ। सीडीपीओ ने बताया कि पोषण थाली में गेहूं, चना, मूंग, अरहर, उड़द, प्रोटीन के स्रोत हरी साग सब्जियां आदि रहता है। उन्होने संदेश दिया कि भोजन में ऐसे तत्वों को शामिल किया जाना चाहिए जिनसे लोगों को पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन, विटामिन आदि मिल सके। टेक होम राशन (टीएचआर) को विविध रूपों में खाने का तरीका भी बताया। उन्होंने कहा कि बच्चों का खाना अलग प्लेट या थाली में दे, जिससे पता चलता रहेगा कि बच्चों ने कितना खाना खाया है। स्कूल पूर्व शिक्षा के लिए आंगनबाड़ी केंद्रों पर प्रतिदिन सारणी के अनुसार बच्चों को भेजें, जिससे केंद्रों में बच्चों की संख्या में बढ़ोतरी होगी। साथ ही पढ लिखकर और पौष्टिक आहार खाकर वह कुपोषण से बच सकेंगे। इस दौरान सीमा निरंजन, शशि, रानी कुशवाहा, रेशमा, ऊषा, बेबी, राजकुमारी आदि उपस्थित रहे।

Leave a comment