जालौन: 2.11 लाख बच्चों को पिलाई जा रही विटामिन ए की खुराक,
बाल स्वास्थ्य पोषण माह में दवा पिलाने में होगा डिस्पोजेबल चम्मच का प्रयोग : जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. सत्य प्रकाश

2.11 लाख बच्चों को पिलाई जा रही विटामिन ए की खुराक,
बाल स्वास्थ्य पोषण माह में दवा पिलाने में होगा डिस्पोजेबल चम्मच का प्रयोग


जालौन 20 दिसंबर 2020 बाल स्वास्थ्य पोषण माह के दौरान नौ माह से पांच साल तक के 2.11 लाख बच्चों को विटामिन ए की दवा पिलाने का अभियान शुरु हो गया है। ब्लाक स्तर पर माइक्रो प्लान बनाकर 14 दिसंबर से अभियान शुरु हो गया है। यह अभियान 15 जनवरी 2021 तक जारी रहेगा। अभियान के दौरान ग्राम स्वास्थ्य पोषण दिवस के सत्र के दौरान बच्चों को विटामिन की दवा पिलाई जाएगी। दवा पिलाने में डिस्पोजेबल चम्मच का प्रयोग किया जाएगा।


जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. सत्य प्रकाश ने बताया कि आशा, एएनएम और आंगनबाड़ी वर्कर को वीएचएनडी सत्र के दौरान नौ माह से दो साल तक के बच्चों को विटामिन की दवा पिलाने का काम किया जा रहा है। यही नहीं दो साल से पांच साल तक बच्चों के लिए कोविड 19 की गाइड लाइन का पालन करते हुए अतिरिक्त सत्र का आयोजन कर दवा पिलाने का लक्ष्य दिया गया है। आयरन फोलिक एसिड सीरप का वितरण बाल स्वास्थ्य पोषण माह से जोडऩे का निर्णय सरकार ने लिया है। इसके तहत एनीमिया मुक्त भारत के तहत आयरन सीरप के पचास एमएल की बोतल में एक लीटर पानी मिलाकर वितरण किया जा रहा है। इसके अलावा स्तनपान को बढ़ावा देने, आयोडीन की कमी के बारे में जागरुक करने, कुपोषण के बारे में जागरुक करने का भी काम किया जा रहा है। इसके अलावा वचन भी लिया जाएगा।
सहायक समीक्षा अधिकारी आरपी विश्वकर्मा ने बताया कि अभियान के दौरान नौ माह से 12 बच्चों को 12348 बच्चों, एक साल से दो साल तक के 53096 बच्चे, दो साल से पांच साल के 145964 समेत 211408 बच्चों को दवा पिलाई जानी है। इसमें आयरन की 4228 बोतलें और 44 हजार आयरन सीरप पिलाई जाएगी।

Leave a Comment