जालौन: कल चलेगा “टीबी हारेगा देश जीतेगा” अभियान : जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ. सुग्रीव बाबू

जालौन: कल चलेगा “टीबी हारेगा देश जीतेगा” अभियान

26 दिसंबर से 25 जनवरी तक एक महीने चलेगा अभियान, टीमें बनाई गई

अनाथालय, नारी निकेतन, शेल्टर होम में भी जाएंगी क्षय रोगी की टीमें


जालौन 24 दिसंबर 2020 राष्ट्रीय क्षय रोग उन्मूलन कार्यक्रम के “टीबी हारेगा देश जीतेगा” कार्यक्रम के अंतर्गत 26 दिसंबर से 25 जनवरी तक तीन चरणों में एक्टिव केस फाइंडिंग अभियान (एसीएफ) चलाया जाएगा। इसमें सक्रिय टीबी रोगियों की खोज कर उनका इलाज सुनिश्चित किया जाएगा।

जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ. सुग्रीव बाबू ने बताया कि पहले चरण में 26 दिसंबर से एक जनवरी तक अनाथालय, वृद्धाश्रम, जिला कारागार, बाल संरक्षण गृह, नारी निकेतन, शेल्टर होम, मदरसा, नवोदय विद्यालय में टीमें जाकर क्षय रोगियों की खोज करेंगी। जबकि दूसरे चरण में 2 जनवरी से 12 जनवरी तक शहरी और ग्रामीण मलिन बस्तियों में क्षय रोग की टीमें घर घर जाकर लोगों की स्क्रीनिंग कर बलगम की जांच करेंगी। इस दौरान एचआईवी एवं डायबिटीज रोग से पीड़ित मरीजों की विशेष रुप से जांच होगी। इसके अलावा तीसरे चरण में 13 जनवरी से 25 जनवरी तक जनपद के निजी अस्पतालों में क्षय रोग की टीमें जाकर चिकित्सकों से संपर्क कर क्षय रोगियों के बारे में डाटा लेंगी। उन्होनेबताया कि संदिग्ध क्षय रोगी की बलगम की जांच सीबी नाट द्वारा की जाएगी और यदि क्षय रोगी मिलता है तो उसका पंजीकरण निक्षय पोर्टल पर करते हुए इलाज शुरू कर दिया जाएगा। क्षय रोगियों की कोविड की भी जांच होगी
टीबी पर्यवेक्षक संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि इस अभियान के लिए टीबी कर्मचारियों को प्रशिक्षण दे दिया गया है। ब्लाक स्तर पर टीमें बना दी गई है। हर टीम में दो सदस्य रहेंगे। जो नियमित रुप से रूट प्लान के अनुसार चिह्नित क्षेत्र में जाकर क्षय रोगियों की खोज करेंगे और उनका इलाज सुनिश्चित कराएंगे। सभी टीमों को अपनी रिपोर्टिंग रोजाना विभागीय पोर्टल पर दर्ज करनी होगी। इस वर्ष 2983 रोगियो का पंजीकरण किया गया है। जिसमें 1086 रोगी रोग मुक्त हो चुके है। जबकि 1306 रोगियों का इलाज जारी है।

Leave a Comment